HomeMadhya Pradesh

अयोध्या राम मंदिर शिलान्यास: मध्यप्रदेश में मंदिरों में रामधुन और सुंदरकांड की गूंज सुनाई देगी

संकट के दौर में सरकार सभी मीडिया कर्मियों को सम्मान निधि के रूप में 10 हजार रू प्रतिमाह की आर्थिक सहायता प्रदान करे- डॉ. संदीप सबलोक
शिवराज नर्मदा यात्रा करो और CM का पद हाईकमान के हवाले कर दो – सज्जन सिंह वर्मा
पेट्रोल और डीजल की बेतहाशा मूल्यवृद्धि के खिलाफ कांग्रेस ने साइकिल और पैदल मार्च निकाल कर विरोध प्रदर्शन किया
Ram Mandir model

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में आज से राम मंदिर का भूमि पूजन शुरू हो जाएगा। इसके तहत सबसे पहले आज गणेश पूजा हुई। मंगलवार को राम अर्चना के साथ हनुमान गढ़ी में पूजा होगी और फिर 5 अगस्त को मुख्य कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विश्व कल्याण और मंदिर निर्माण के लिए संकल्प लेंगे। इधर, मध्यप्रदेश में भी इस मौके पर रामलला को याद करने के लिए मंदिरों में रामधुन और सुंदरकांड की गूंज सुनाई देगी।

राज्य सरकार ने चार और पांच अगस्त को प्रदेश के मंदिरों में दीप प्रज्वलन और रामधुन तथा सुंदरकांड के रिकॉर्ड बजाने की अनुमति दी है। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन की तैयारियां जोर-शोर से जारी है लेकिन कोरोना महामारी से जूझ रहे मध्यप्रदेश के कई जिलों में अलग-अलग लॉकडाउन लगा हुआ है। मंदिरों में सार्वजनिक रूप से पूजा-पाठ की अनुमति अभी नहीं है। वहीं अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की शुरुआत के मौके पर प्रदेश के अलग अलग स्थानों पर बने शासकीय देवस्थान, मंदिरों से 4 और 5 अगस्त को मंदिरों में दीप प्रज्वलन करने और राम धुन तथा सुंदरकांड के रिकॉर्ड अलग स्थानों पर बने शासकीय देवस्थान, मंदिरों से 4 और 5 अगस्त को मंदिरों में दीप प्रज्वलन करने और रामधुन तथा सुंदरकांड के रिकॉर्ड बजाने की अनुमति मांगी जा रही थी।
अध्यात्म विभाग ने प्रदेश के सभी संभागायुक्तों और कलेक्टर्स को निर्देश दिए हैं कि सभी जगह अलग-अलग अनुमतियां देने की जगह शासन संधारित मंदिरों में रामधुन और सुंदरकांड बजाने तथा दीप प्रज्वलन की अनुमति सशर्त दी गई है। इन आयोजनों के लिए अलग से कोई अनुदान या राशि का आवंटन शासन स्तर पर उपलब्ध नहीं कराया जाएगा। वहीं कोरोना संक्रमण से सावधानी के संबंधित दिशा निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराया जाए। अनुमति मिलने के बाद अब प्रदेश के मंदिरों में दीप प्रज्वलन और रामधुन तथा सुंदरकांड बजाने की तैयारियां शुरु हो गई है।

CM शिवराज ने किया रामराजा की आराधना कर दीपोत्सव मनाने का आग्रह

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा ट्वीट कर चार और पांच अगस्त को ओरछा और चित्रकूट में पुजारियों द्वारा विशेष पूजा-अर्चना करने की जानकारी दिए जाने के बाद वहां चार और पांच अगस्त को ओरछा में रामराजा मंदिर और चित्रकूट के मंदिरों में भगवान राम की विशेष पूजा-अर्चना की तैयारियां शुरू हो गई है। मंदिरों को विशेष रूप से सजाया गया है। मंदिरों में केवल पुजारियों और कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए विशेष पूजा अर्चना कराने की तैयारी की गई है। मुख्यमंत्री ने ओरछा वासियों से घर पर ही रहकर रामराजा की पूजा-आराधना कर दीपोत्सव मनाने का आग्रह किया है।