HomeLifestylesReligion

जानिए किस देवता को कौनसा फूल चढ़ाने से होती हैं मनोकामनाएं पूरीं

नारियल तेल के हैं अचूक फायदे, इसे करें जरूरी मेकअप प्रोडक्ट की तरह इस्तेमाल
पूजा में न करें इस तरह के फूलों का इस्तेमाल, जानें भगवान को कैसे पुष्प अर्पित किए जाते हैं
पैसा खुशहाली की जड़ नहीं है, प्रसन्न रहना ही है सबसे बड़ी दवा

                                  

पूजा-पाठ में फूलों का विशेष महत्व होता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार भगवान की पूजा में फूलों का उपयोग करना चाहिए। भगवान को फूल अर्पित करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं, किस भगवान को कौनसा फूल प्रिय होता है। आइए आज जानते हैं, किस भगवान को कौनसा फूल चढ़ाना चाहिए 

  • गणेश भगवान प्रथम पूजनीय देव हैं। गणपति महाराज को दूर्वा सबसे अधिक प्रिय है। भगवान गणेश को दूर्वा अर्पित करना चाहिए। गणेश भगवान की पूजा में तुलसी निषेध होती है। तुलसी को छोड़कर आप कोई भी फूल भगवान गणेश को चढ़ा सकते हैं। 
  • भगवान शिव को धतूरे के फूल, हरसिंगार, व नागकेसर के सफेद पुष्प, सूखे कमल गट्टे, कनेर, कुसुम, आक, कुश के फूल प्रिय होते हैं। भगवान शिव की पूजा में तुलसी और केवड़े का पुष्प नहीं चढ़ाना चाहिए।
  • भगवान विष्णु को तुलसी सबसे अधिक प्रिय है। तुलसी के अलावा विष्णु भगवान को कमल, मौलसिरी, जूही, कदंब, केवड़ा, चमेली, अशोक, मालती, वासंती, चंपा, वैजयंती के पुष्प भी चढ़ाए जाते हैं।  विष्णु जी की पूजा में आक, धतूरा, शिरीष, सहजन, सेमल, कचनार और गूलर निषेध हैं।