HomeNationalIndia

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बोले- चीनी चाल से रहें सावधान

my-portfolio

• रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- सीमा पर भारतीय सेना के द्वारा उठाए गए कदमों पर मुझे बेहद गर्व है• सीमा पर तैनात जवानों के साहस की तारीफ करते हुए ची

पीएम मोदी ने कहा UN में स्थायी सदस्यता के लिए भारत कब तक करे इंतजार
गाय के गोबर की चिप घटाएगी मोबाइल रेडिएशन
12 लाख स्मार्ट क्लास रूम बनेंगे, स्कूलों में निजी निवेश की तैयारी!

Defence minister Rajnath Singh

• रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- सीमा पर भारतीय सेना के द्वारा उठाए गए कदमों पर मुझे बेहद गर्व है
• सीमा पर तैनात जवानों के साहस की तारीफ करते हुए चीन की सेना पर साधा निशाना

देश की राजधानी दिल्ली में आयोजित आर्मी कमांडर्स कॉन्फ्रेंस में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शामिल हुए. इस दौरान उन्होंने चीनी सीमा पर तैनात जवानों के साहस की तारीफ की. साथ ही उन्होंने सेना के कमांडर्स को विवादित सीमाओं पर चीनी कार्रवाई और सैन्य वार्ता के दौरान उसकी मंशा के बारे में सावधान रहने को कहा. एलएसी पर चीन के साथ व्याप्त सीमा तनाव इस साल के इस चार दिवसीय सम्मेलन में विचार-विमर्श का मुख्य केंद्र है. इस कान्फ्रेंस की शुरुआत 26 अक्टूबर को हुई थी. इसकी अध्यक्षता सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे कर रहे हैं.

विश्वास में आई कमी

राजनाथ सिंह ने कहा है कि बातचीत को ईमानदारी के साथ विश्वास के माहौल में आयोजित किया जाना चाहिए, रक्षा मंत्री ने यह भी संकेत दिया कि चीनी मंशा संदिग्ध होने के बाद से विश्वास में कमी आई है. राजनाथ सिंह ने कहा कि मौजूदा सुरक्षा माहौल में भारतीय सेना द्वारा उठाए गए कदमों पर मुझे बेहद गर्व है. उन्होंने कहा, सुधारों के मार्ग पर आगे बढ़ रही सेना को हर सुविधा देने और सभी क्षेत्रों में बढ़त हासिल करने में मदद के लिए रक्षा मंत्रालय प्रतिबद्ध है. हम अपने सशस्त्र बलों की भुजाओं को मजबूत बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे.

हर खतरे पर संभाला मोर्चा

सेना की सराहना करते हुए सिंह ने कहा कि आजादी के बाद से देश की संप्रभुता और सुरक्षा से जुड़ी कई चुनौतियों का बल ने सफलतापूर्वक समाधान दिया है. उन्होंने कहा, चाहे वह आतंकवाद की समस्या हो, उग्रवाद या बाहरी आक्रमण, सेना ने उन खतरों को नाकाम करने में हमेशा महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है.

चीन से तनातनी का माहौल

पिछले 6 महीने से भारत और चीन की सेनाओं के बीच पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तनाव बना हुआ है. गतिरोध को दूर करने के लिए दोनों पक्षों में कई दौर की बातचीत हो चुकी है, लेकिन अब तक कोई सफलता नहीं मिली है. दोनों पक्षों ने क्षेत्र में 50-50 हजार से ज्यादा सैनिकों की तैनाती कर रखी है.

Get all latest news in Hindi related to politics, sports, entertainment, technology and business etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and World news in Hindi. 
Follow ASE News on Facebook, Twitter and Google News.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: