HomeMadhya Pradesh

शिवराज चंबल एक्सप्रेस-वे पर झूठ बोल रहे हैं: सज्जन सिंह वर्मा

शिवराज मंत्रिमंडल में रहा सिंधिया का प्रभाव, 20 कैबिनेट और 8 राज्यमंत्री बने
MP: मंत्रियों को विभाग बांटने को लेकर अमित शाह से मिले शिवराज
MP: Ujjain में एक साथ खड़ी सात बसों में लगी आग
भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं प्रदेश के पूर्व लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने शिवराज सिंह के चंबल एक्सप्रेस-वे को लेकर दिए बयान पर पलटवार किया है, उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह चौहान सबसे बड़ी झूठ की दुकान चला रहे हैं और उनके साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया भी इस झूठ में शामिल होकर एक और एक ग्यारह हो गए।
शिवराज सिंह चौहान ने अपने एक बयान में कहा कि ग्वालियर चंबल एक्सप्रेस-वे योजना को कांग्रेस सरकार ने ठंडे बस्ते में डाल दिया था यह सरासर झूठ है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने ही इस योजना को प्रारंभ करने के लिए अनेकों प्रयास किएमैंने इस योजना की स्वीकृति के लिए केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को दो बार पत्र लिखे 13 फरवरी 2019 को मैंने पत्र लिखा तथा इस योजना की स्वीकृति देने का आग्रह किया। दूसरी बार जुलाई 2019 को पुनः इस संबंध में मैंने और तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने नितिन गडकरी से बात की। साथ ही अन्य विभागों से तालमेल कर इस योजना को आगे बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास किए। हमारा काम बड़ी तेज गति से जारी था|
वर्मा ने कहा की शिवराज सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया सारे कागज निकला ले विभाग से एक एक  तारीख गवाह है। तत्कालीन मुख्य सचिव मोहंती जी ने सभी वरिष्ठ अधिकारियों के साथ इस संबंध में एक बड़ी बैठक 20 फरवरी 2020 को ली थी तथा 21 फरवरी को सभी प्रमुख मीडिया समूह द्वारा इस संबंध में खबरें प्रकाशित की थी। उन्होंने कहा कि शिवराज अपनी झूठ की दुकान बंद करें तथा लोगों को गुमराह करना बंद करें।