HomeMadhya Pradesh

MP Mansun update: प्रदेश में अब तक केबल 4 जिलों में ही बारिश

my-portfolio

बारिश की झड़ी वाला मनभावन सावन लगभग समाप्त होने को है, लेकिन मप्र में बारिश की स्थिति चिंताजनक ही है। इंडिया मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट (आईएमडी) ने मप्र

लाईन में लगे किसान की मौत मध्यप्रदेश को शर्मसार करने वालीसरकार उपार्जन अवधि बढ़ाये : जीतू पटवारी
MP by-election: कांग्रेस प्रत्याशी पारुल साहू ने रानगिर में हरसिद्धि माता का आशीर्वाद लेकर सुरखी क्षेत्र में किया जनसंपर्क
MP-कांग्रेस के विधायक कुणाल चौधरी के बाद अब भाजपा विधायक ओमप्रकाश सकलेचा कोरोना की पॉजिटिव
Bhopal photograph

बारिश की झड़ी वाला मनभावन सावन लगभग समाप्त होने को है, लेकिन मप्र में बारिश की स्थिति चिंताजनक ही है। इंडिया मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट (आईएमडी) ने मप्र स्टेट की पिछले दो महीने की रेन रिपोर्ट जारी कर बताया कि एमपी के 18 जिलों में सूखे जैसे हालात हैं। 4 जिलों में ही सामान्य से ज्यादा बारिश हुई। बाकी शेष जिलों में औसत सामान्य वर्षा हुई। इन सामान्य वर्षा वाले जिलों में राजधानी भोपाल भी शामिल है। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक भोपाल में इस साल पिछली जुलाई के कोटे की तुलना में आधी बारिश भी नहीं हो पाई है यह स्थिति 2010 के बाद निर्मित हुई है। मौसम वैज्ञानिक गुरूदत्त मिश्रा ने बताया कि अभी भी मानसून की स्थिति अच्छी नहीं है। भद्रा लगने के बाद 5 अगस्त से बारिश की उम्मीद की जा सकती है क्योंकि विभिन्न जनों से रेन सिस्टम री-एक्टिव होने के संकेत मिल रहे हैं।

प्रदेश में बारिश की स्थिति

मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक प्रदेश में अब तक 383.2 मिमी. ही बारिश हो पाई है। जबकि जुलाई महीने के बारिश का कोटा 432.1 मिमी. के आसपास है। प्रदेशभर में अभी भी 11 फीसदी कम बारिश हुई है। वहीं पिछले साल 2019 में जहां 643 मिमी. बारिश हुई थी वहीं इस साल 154 मिमी. ही हो पाई। इनता ही नहीं प्रदेश के 30 जिलों में सामान्य से भी कम बारिश हुई। इस साल जो बारिश हुई है उसमें सर्वाधिक वर्षा जून में ही हुई है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0